डोर टू डोर  बैंकिंग/ What is door step banking?

Door step banking or डोर to डोर बैंकिंग का मतलब है कि आपको बैंक की सुविधाएं घर पर ही उपलब्ध हो उसे डोर टू डोर  बैंकिंग कहते हैं. या door step banking कहते है.

what is a Door Step Banking

What are the basics of banking.

Basics of banking का मतलब है कि आपको छोटी छोटी सुविधाएं जो आपको बार बार बैंक में जाना पड़ता है वो सभी सुविधाएं आपको घर पर हि मिलेगी.

5 most important banking services

 कौन-कौन सी सुविधाएं डोर टू डोर  बैंकिंग के अंतर्गत आती है.

 1.  रुपए जमा करना और निकालना

 2. बैंक statement उपलब्ध करवाना

 3.  Clearing के चेक जमा करवाना

 4. 15g और 15h के फॉर्म जमा करना

 5.  इनकम टैक्स के चालान जमा करना

 6. FDR RD MIP के फार्म के receipt लेना ओर जमा करना .

 7. पासबुक में एंट्री करवाना या अपडेट करवाना

 8. फार्म 16 उपलब्ध करवाना.

 9. डीडी के फार्म

10. टर्म डिपोजिट के फार्म

Door step banking in public sector banks.

पब्लिक सेक्टर बैंक पहले door step banking कि सुविधाए नहीं देते थे लेकिन अब पब्लिक सेक्टर के बैंक भी door step banking services को ज्वाइन किया है और ये सभी बैंक भी dor step banking उपलब्ध करवा रहे है,  चाहे वो एसबीआई हों या बैंक ऑफ बड़ौदा , यूनियन बैंक कोई सा पब्लिक सेक्टर का बैंक हो सभी ये door step banking services उपलब्ध करवा रहें हैं.

How to find the CIF number of indian bank and Allahabad bank?

 क्या door step banking Rbi उपलब्ध करवाता है

नहीं आरबीआई door step banking ki सुविधा उपलब्ध नहीं करवाता है,  Reserve Bank of India यानी आरबीआई बैंको कि निगरानी का काम करता है. आरबीआई केवल दिशनिर्देशों के बारे निर्देश उपलब्ध करवाता है.

Sukanya Samridhi Yojana

Who is providing door step banking

 पहले door step banking प्राइवेट बैंक उपलब्ध कर वा रहे थे लेकिन अब पब्लिक सेक्टर के बैंक भी ये सुविधा उपलब्ध करवा रहे और प्राइवेट बैंक भी ये सुविधा उपलब्ध करवा रहे हैं.

How can customer get this type banking services.

आसानी से कस्टमर door banking सुविधा प्राप्त कर सकता है बस आपको अपनी ब्रांच में जाना है और ब्रांच ऑफिशियल से door banking के बारे पूछना और उनको बताना है कि आपको कोन कोन सी बैंक कि सुविधाएं कि जरूरत है घर पर ओर उसका क्या चार्ज है.

बैंक door to door बैंकिंग के लिए अलग से कस्टमर केयर सुविधा रखते हैं , ये थर्ड पार्टी सुविधा होती हैं जिनको बैंक अपने कोटैक्ट में रखते हैं ओर जरूरत पड़ने पर उनको ये काम उपलब्ध करवाए जाएं जाते है customer कि मांग के हिसाब से.

ये ऐसा होता जेसे हम कोई ऑनलाइन ऑर्डर करते हैं तो तो डिलीवरी बॉय वो हमारा ऑर्डर अपने बताए हुए पते पर लेकर आता है ठीक उसी तरह ये भी बैंक कि डोर स्टेप बैंकिंग काम करती हैं यानी अपको सुविधाएं का ऑर्डर देना ओर अपको अपना पता बताना है बैंक कि सुविधाएं आपको घर बैठे उपलब्ध होगी.

कहीं बैंक अपने customer care या मोबइल बैंकिंग aap से भी आप इस सुविधा को register करवा सकते है.

डोर टू डोर बैंकिंग का पूरा प्रोसेस.

पहले आपको अपनी सुविधनुसार सर्विसेस सेक्लेट करनी हैं उसके बाद आपके बताए हुऐ एड्रेस (पते) पर डिलीवरी मेन आयेगा आपको अपनी receipt नंबर मैच करवाना है जो डिलीवरी मेन के पास होगा और जो आपके पास होगा  मैच होते ही आपको अपना मगवाया हुआ document मिल जयेगा लेकीन इससे पहले पार्सल को चैक करवाना  जब सभी चीजे मैच कि जायेगी जैसे कि आपका ऑर्डर नंबर, पिन नंबर ,request service number ,pay ऑर्डर नंबर एतियादी जब मैच हो जाएगा तब आपको अपना मंगवाया हुआ पार्सल मिलेगा

Door banking advantages.

आपको घर पर ही बैंक कि सुविधा मिल रही हैं

आपका समय बच जाएगा

लाइन में नहीं लगना पड़ेगा

नेटवर्क कि प्रॉब्लम को आपको नहीं देखना है

आप घर बैठे बैठे सुविधा का फायदा उठा सकते है

पासबुक प्रिंटर नहीं चल रहा तो भी bank statement घर मंगवा सकते है , ऐसे बहुत से फायदे है जो आप उठा सकते हैं।

 

Categories: Banking

0 Comments

Leave a Reply

Avatar placeholder

Your email address will not be published. Required fields are marked *